Fursat Hai Aaj Bhi Lyrics – Arjun Kanungo 2020

0
265
Fursat-Hai-Aaj-Bhi

Fursat Hai Aaj Bhi Lyrics is a Hindi song written by Mayur Puri. The Singer of the Arjun Kanungo. The music has been composed by Arjun Kanungo. The music has been released by VYRLOriginals.

Song Title:Fursat Hai Aaj Bhi Lyrics
Singer:Arjun Kanungo
Starring:Arjun Kanungo, Sonal Chauhan
Director:Keyur Shah
Lyrics:Mayur Puri
Music Label:VYRLOriginals

Fursat Hai Aaj Bhi Lyrics in English

Bhoolna kya, bhulaana kya?
Roothna kya, manaana kya?
Dil ko behlaane ka
Aur bas hai bahaana kya?

Zindagi ka thikaana kya?
Dil kabhi tha sayaana kya?
Rooh mein tu hai mehfooz
Phir tera jaana kya?

Tujhe khoya nahin, tha kabhi…
Tu hai yahin kahin, aaj bhi…

Fursat ka jo har lamhaa hai
Mujhse bas ye kehta hai
Aadat teri baaton ki, aaj bhi

Teri ankhon ne jo dekhe they
Meri ankhon mein wo sapne hain
Sarhad nahin khwaabon ki, aaj bhi
Tu hai aaj bhi…

Bin bulaaye ye aana kya?
Aa gaye toh hai jaana kya?
Teri yaadon se behtar hai
Dil ka thikaana kya?

Tere mere wo pal meethey
Kum lagey saath jo beetey
Par tu hai door ye meri
Ankhon ne maana kya?

Tujhe bhoola nahin tha kabhi
Tu hai mere kareeb aaj bhi

Fursat ka jo har lamhaa hai
Mujhse bas ye kehta hai
Aadat teri baaton ki, aaj bhi
Mmmmm… Aaj bhi!

Teri ankhon ne jo dekhe they
Meri ankhon mein wo sapne hain
Sarhad nahin khwaabon ki, aaj bhi
Tu hai aaj bhi…

Fursat Hai Aaj Bhi Lyrics in Hindi

भूलना क्या, भूलाना क्या
रूठना क्या, मनाना क्या
दिल को बहलाने का
और बस है बहाना क्या

ज़िन्दगी का ठिकाना क्या
दिल कभी था सयाना क्या
रूह में तू है महफूज़
फिर तेरा जाना क्या

तुझे खोया नहीं था कभी
तू है यहीं कहीं आज भी

फुरसत का जो हर लम्हा है
मुझसे बस ये कहता है
आदत तेरी बातों की आज भी
हाँ, आज भी

तेरी आँखों ने जो देखे थे
मेरी आँखों में वो सपने हैं
सरहद नहीं ख्वाबों की आज भी
तू है आज भी

बिन बुलाये ये आना क्या
आ गए तो है जाना क्या
तेरी यादों से बेहतर है
दिल का ठिकाना क्या

तेरे मेरे वो पल मीठे
कम लगे साथ जो बीते
पर तू है दूर ये मेरी
आँखों ने माना क्या

हम्म तुझे भूला नहीं था कभी
तू है मेरे करीब आज भी

फुरसत का जो हर लम्हा है
मुझसे बस ये कहता है
आदत तेरी बातों की आज भी
मम्म.. आज भी

तेरी आँखों ने जो देखे थे
मेरी आँखों में वो सपने हैं
सरहद नहीं ख्वाबों की आज भी
तू है आज भी

More Song:

Leave a Reply