Nashe Si Chadh Gayi Lyrics – Befikre 2016

0
304
Nashe-Si-Chadh-Gayi

Song Title: Nashe Si Chadh Gayi Lyrics
Singers: Arijit Singh, Caralisa Monteiro
Music: Vishal – Sekhar
Lyrics: Jaideep Sahni
Music Label: YRF Music

English Lyrics

(Caralisa Monteiro Begins in French)
Ton sourire m’ensorcelle
je suis fou de toi.
Le désir coule dans mes veines
guidé par ta voix.
Ton sourire m’ensorcelle
je suis fou de toi.

(Arijit Singh)
Nashe si chadh gayi oye
Kudi nashe si chadh gayi
Patang si lad gayi oye
Kudi patang si lad gayi (x2)


Aise khenche dil ke penche
Gale hi pad gayi oye
Nashe si chadh gayi oye
Kudi nashe si chad gayi
Patang si lad gayi oye
Kudi patang si lad gayi


O udti patang jaise
Mast malang jaise
Masti si chadh gayi humko turant aise
Lagti current jaise
Nikla warrant jaise
Abhi abhi utra ho net se torrent jaise


Nashe si chadh gayi oye
Kudi nashe si chad gayi
Patang si lad gayi oye
Kudi patang si lad gayi
Nashe si chadh gayi oye
Kudi nashe si chadh gayi


Nashe si chadh gayi
Patang si lad gayi
Khilti basant jaise
Dhulta kalank jaise


Dil ki daraar mein ho pyar ka cement jaise
Akhiyon hi akhiyon mein jang ki front jaise
Mil jaaye sadiyon se atka refund jaise
Zubaan pe chadh gayi oye
Kudi zubaan pe chadh gayi


Lahu mein badh gayi oye
Kudi lahu mein badh gayi
Kamli kahaaniyo si
Jangli jawaniyon si
Jamti pighalti hai pal-pal paaniyon si
Behti rawaaniyon si
Hansti shaitaaniyon si


Chadh gayi hum pe badi meherbaniyon si
Aise khenche dil ke penche
Gale hi pad gayi oye…
Nashe si chadh gayi oye
Kudi nashe si chadh gayi
Patang si lad gayi oye
Kudi patang si lad gayi


Kanniyan o katte kadi
Dil de chaurahe langdi ae
Kanniyan o katte kadi
Banniyan o tappe kadi
Dil de chaurahe langdi ae


Hansi kadi thatte kadi
Galliyan oh nappe kadi
Hans ke kaleja maangdi ae
Ton sourire m’ensorcelle
je suis fou de toi.
Le désir coule dans mes veines
guidé par ta voix. (x2)


Nashe si chadh gayi oye..
Patang si lad gayi oye..
Nashe si chadh gayi oye
Kudi nashe si chadh gayi

Hindi Lyrics

नशे सी चढ़ गयी ओये
कुड़ी नशे सी चढ़ गयी
पतंग सी लड़ गयी ओये
कुड़ी पतंग सी लड़ गयी
नशे सी चढ़ गयी ओये


कुड़ी नशे सी चढ़ गयी
पतंग सी लड़ गयी ओये
कुड़ी पतंग सी लड़ गयी
ऐसे खेंचे दिल के पेंचे
गले ही पड़ गयी ओये


नशे सी चढ़ गयी ओये
कुड़ी नशे सी चढ़ गयी
पतंग सी लड़ गयी ओये
कुड़ी पतंग सी लड़ गयी
ओ उड़ती पतंग जैसे
मस्त मलंग जैसे


मस्ती सी चढ़ गयी
हमको तू रात ऐसे लगती करंट जैसे
निकला हो वारंट जैसे
अभी अभी उतरा हो
नेट से टोरेंट जैसे
नशे सी चढ़ गयी ओये


कुड़ी नशे सी चढ़ गयी
पतंग सी लड़ गयी ओये
कुड़ी पतंग सी लड़ गयी
नशे सी चढ़ गयी ओये
कुड़ी नशे सी चढ़ गयी


नशे सी चढ़ गयी
पतंग सी लड़ गयी ओये
खुलती बसंत जैसे
धुलता कलंक जैसे
दिल की दरार में हो प्यार का सीमेंट जैसे
अखियों ही अखियों में जंग की फ्रंट जैसे
मिल जाए सदियों से अटका रिफंड जैसे


जुबां पे चढ़ गयी ओये
कुड़ी जुबां पे चढ़ गयी
लहू में बढ़ गयी ओये
कुड़ी लहू में बढ़ गयी
कमली कहानियों सी


जंगली जवानियों सी
जमती पिघलती है
पल-पल पानियों से
बहती रावानियों सी
हस्ती शैतानियों सी
चढ़ गयी हम पे बड़ी मेहेर्बनियों से


ऐसे खेंचे दिल के पेंचे
गले ही पड़ गयी ओये
नशे सी चढ़ गयी ओये
कुड़ी नशे सी चढ़ गयी
पतंग सी लड़ गयी ओये


कुड़ी पतंग सी लड़ गयी
कनिया ओ कट्टे कड़ी
पन्निया ओ टप्पे कड़ी
दिल दे चौराहे लंग्दी ऐ
हसी कड़े थत्ते कड़ी


गलियों ओह नप्पे कड़ी
हंस के कलेजा मंगदी ऐ
नशे सी चढ़ गयी ओये
पतंग सी लड़ गयी ओये
नशे सी चढ़ गयी ओये
कुड़ी पतंग सी लड़ गयी

Leave a Reply