Aashiq Tera Lyrics – Happy Bhag Jayegi 2016

0
1919
aashiq-tera

Song Title: Aashiq Tera Lyrics
Movie: Happy Bhag Jayegi (2016)
Singer: Altamash Faridi
Lyrics: Mudassar Aziz
Music: Sohail Sen
Music Label: Eros

English Lyrics

O meherbaan ve
Karaan main tera sukriya ve
O sahibaa ve
Mareez-e-ishq ho gaya ve
Mainu lagdi na koi dava ve
Mera Rabb hi hai mera gavaah ve


Hun tu kar mera faisla ve
Jo naal tere na jiya
Toh jeeke ki karaan
Tera, tera… tera hua haan
Aashiq tera, tera… tera hua haan (x2)


Hosh baaton ka aksar nahi tha
Dil humara toh shayar nahi tha
Tune likh di ye taqdeer warna
Ishq wala muqaddar nahi tha
Teri nazron ke kaaran.


Chhute hain deen-o-dharam
Kiye ja tu kiye ja
Abhi kuch aur sitam
Nahi sambhla dil mere sambhale
Ise kar daala tere hawale
Tu mita de ya chahe bacha le


Jaa ishq pe mere chala le apni marziyan
Tera, tera… tera hua haan
Aashiq tera, tera… tera hua haan
Dil ke aage ye aafat badi hai


Khwahishein phir bhi zidd pe adi hai
Hum se maayoos hoga zamaana
Par zamaane ki kisko padi hai
Tu chala jaayega ghar
Saath hai ye ghadi bhar


Manzilein meri nahi
Hai mera bas ye safar
Sarhadon ko na hoga ye gawara
Ki mile dil se dil koi awaara


Main parinda hoon, tu hai sitaara
Main aasmaan chunu tu apna aasmaan
Tera, tera… tera hua haan
Aashiq tera, tera… tera hua haan..

Hindi Lyrics

[ओ मेहरबान वे
करां मैं तेरा सुक्रिया वे
ओ साहिबा वे
मरीज़-इ-इश्क़ हो गया वे
मेनू लगदी ना कोई दावा वे
मेरा रब ही है मेरा गवाह वे


हूँ तू कर मेरा फैसला वे
जो नाल तेरे ना जिया
तो जीके की करां
तेरा तेरा तेरा हुआ हाँ..
आशिक़ तेरा तेरा तेरा हुआ हाँ ] x २


होश बातों का अक्सर नहीं था
दिल हमारा शायर नहीं था
तूने लिख दी ये तकदीर वरना
इश्क़ वाला मुक़द्दर नहीं था


तेरी नज़रों के कारण
छूटे हैं दीन-ओ-धरम
किये जा तू किये जा
अभी कुछ और सितम
नहीं संभला दिल मेरा संभले


इसे कर डाला तेरे हवाले
तू मिटा दे या चाहे बचा ले
जा इश्क़ में मेरे चला ले अपनी मर्जियां
तेरा तेरा तेरा हुआ हाँ
आशिक़ तेरा तेरा तेरा हुआ हाँ


दिल के आगे ये आफ़त बड़ी है
ख्वाहिशें फिर भी ज़िद्द पे अदि है
हम से मायूस होगा ज़माना
पर ज़माने की किसको पड़ी है
तू चला जाएगा घर


साथ है ये घडी भर
मंजिलें मेरी नहीं
है मेरा बस ये सफ़र
सरहदों को ना होगा ये गवारा


की मिले दिल से दिल कोई आवारा
मैं परिंदा हूँ, तू है सितारा
मैं आसमान चुनु तू अपना आसमान
तेरा तेरा तेरा हुआ हाँ
आशिक़ तेरा तेरा तेरा हुआ हाँ..

Leave a Reply