CHAK DE INDIA Title Song Lyrics – Sukhwinder Singh 2007

0
394

Song Title: Chak De India Title Song
Movie: Chak De India (2007)
Singer:  Sukhwinder Singh 
Lyrics: Jaideep Sahni
Music: Salim-Sulaiman
Music Label: YRF Music

English lyrics 

( Kuchh Kariye… (2) ) Nas Nas Meri Khole, Haay Kuchh Kariye
( Kuchh Kariye… (2) ) Bas Bas Bada Bode, Abb Kuchh Kariye


Ho Koi Toh Chal Zidd Phadiye, Tu Bidarayiye Ya Mariye… (2)
Chak De Ho Chak De India… (4)
( Now Where To Run Now Where To Hide
Lets Take Our Time Till We Drop )… (2)

Poocho Na Galion Mein, Rashan Ki Phalion Mein
Bailon Mein Beejo Mein, Eedon Mein Dijon Mein
Reton Ke Daano Mein, Filmon Ke Gaano Mein

Sadko Ke Gaddon Mein, Baaton Ke Addo Mein
Humkara Aaj Bhar Le, Das Baara Baar Kar Le
Rehna Na Yaar Pichhe Kitna Bhi Koi Khinche

Tas Hai Na Mas Hai Ji, Jid Hai Toh Jid Hai Ji
Pisna Yuun Hi Pisna Yuun Hi Paththar Yeh

Koi Toh Chal Zidd Phadiye, Tu Bedarayiye Ya Mariye… (2)
Chak De Ho Chak De India… (4)


( Now Where To Run Now Where To Hide
Lets Take Our Time Till We Drop… (2)
Chak De…

Ladati Patangon Mein, Bhidati Umango Mein
Khelo Ke Melon Mein, Balkhaati Relon Mein
Ganno Ke Mithe Mein, Khattar Mein Jhitein Mein

Dhundein Toh Mil Jaave Wo Mein
Dung Hai Nikharein Aur Khul Ke Aag Bikharein
Man Jaaye Aisi Holi Rug Rug Mein Chal Ke Boli

Tas Hai Na Mas Hai Ji, Jid Hai Toh Jid Hai Ji
Pisna Yuun Hi Pisna Yuun Hi Paththar Yeh

Koi Toh Chal Zidd Phadiye, Tu Bedarayiye Ya Mariye… (2)
Chak De Ho Chak De India… (4)

Ki Aab Kuchh Kariye……….

Hindi Lyrics 

English Lyrics

कुछ करिए, कुछ करिए
नस नस मेरी खोले, हाय कुछ करिए


कुछ करिए, कुछ करिए
बस बस बड़ा बोले, अब कुछ करिए

[हो कोई तो चल ज़िद्द फड़िए
तू बिदरिये या मरिये] x 2

[चक दे हो चक दे इंडिया] x 3

[Now Where To Run Now Where To Hide
Lets Take Our Time Till We Drop] x 2

कुचों में गलियों में, राशन की फलियों में
बैलों में बीजों में, ईदों में तीजों में
रेतों के दानों में, फिल्मों के गानों में


सड़को के गड्ढों में, बातों के अड्डों में
हुंकारा आज भर ले, दस बारह बार कर ले


रहना ना यार पीछे, कितना भी कोई खींचे


टस है ना मस है जी, ज़िद है तो ज़िद है जी
किसना यूँ ही, पिसना यूँ ही, पिसना यूँ ही
बस करिए..

[कोई तो चल ज़िद्द फड़िए
तू बिदरिये या मरिये] x 2

[चक दे हो चक दे इंडिया] x 3

लड़ती पतंगों में, भिड़ती उमँगों में
खेलों के मेलों में, बलखाती रेलों में

गन्नों के मीठे में, खद्दर में, झींटें में
ढूँढो तो मिल जावे, पत्ता वो ईंटों में

रंग ऐसा आज निखरे, और खुलके आज बिखरे
मन जाए ऐसी होली, रग-रग में दिल के बोली


टस है ना मस है जी, ज़िद है तो ज़िद है जी
किसना यूँ ही, पिसना यूँ ही, पिसना यूँ ही
बस करिए..

[कोई तो चल ज़िद्द फड़िए
तू बिदरिये या मरिये] x 2

[चक दे हो चक दे इंडिया] x 3

Leave a Reply