Dil Mera Tod Diya Usne Lyrics – Kasoor | Alka Yagnik 2001

0
155

Song Title: Dil Mera Tod Diya Usne
Movie: Kasoor
Singer: Alka Yagnik
Lyrics: Sameer
Music: Nadeem-Shravan
Music Label: Saregama India Ltd

English lyrics

Dil Mera Tod Diya Usne
Bura Kyun Maanu
Dil Mera Tod Diya Usne
Bura Kyun Maanu

Usko Hak Hai Woh Mujhe
Pyaar Kare Ya Na Kare
Dil Mera Tod Diya Usne
Bura Kyun Maanu

Pehle Maaloom Na Tha
Aaj Yeh Maine Samjha
Pyaar Kehte Hai Jise

Woh Hai Dilo Ka Sauda
Dil Ki Dhadkan Ko Bhala
Kaise Koi Qaid Kare
Yeh To Aazad Hai Jab Chaahe
Jahan Aahe Bharen

Uske Raste Mein Khadi Kyon
Koyi Deewaar Kare
Uske Raste Mein Khadi Kyon
Koyi Deewaar Kare

Usko Hak Hai Woh Mujhe
Pyaar Kare Ya Na Kare
Dil Mera Tod Diya Usne
Bura Kyun Maanu

Saare Vaadon Ka Bharam
Pal Mein Woh Tod Gaya
Ghum Ke Jis Mod Pe Laake

Woh Mujhe Chhod Gaya
Main Usi Mod Ki Dehleez Pe So Jaaongi
Umar Bhar Uske Liye Ajnabi Ho Jaaongi

Har Sitam Shok Se Muhjpe Dildaar Kare
Har Sitam Shok Se Muhjpe Dildaar Kare
Usko Hak Hai Woh Mujhe
Pyaar Kare Ya Na Kare

Dil Mera Tod Diya Usne
Bura Kyun Maanu
Bura Kyun Maanu
Bura Kyun Maanu

Hindi Lyrics

आ आ आ..
दिल मेरा तोड़ दिया उसने बुरा क्यों मानु
दिल मेरा तोड़ दिया उसने बुरा क्यों मानु
उसको हक़ है वो मुझे प्यार करे या ना करे

दिल मेरे तोड़ दिया उसने बुरा क्यों मानु
पहले मालुम न था, आज ये मैंने समझा

प्यार कहते हैं जिसे वो है दिलों का सौदा
दिल की धड़कन को भला कैसे कोई क़ैद करे
ये तो आज़ाद है जब चाहे जहाँ आहें भरे


उसके रस्ते में खड़ी क्यों कोई दीवार करे
उसके रस्ते में खड़ी क्यों कोई दीवार करे

उसको हक़ है वो मुझे प्यार करे या ना करे
दिल मेरे तोड़ दिया उसने बुरा क्यों मानु
आ आ..


सारे वादों का भरम पल में वो तोड़ गया
ग़म के जिस मोड़ पे ला के वो मुझे छोड़ गया
मैं उसी मोड़ की दहलीज़ पे जाउंगी

उम्र भर उसके लिए अजनबी हो जाउंगी
हर सितम शौक से मुझपे दिलदार करे
हर सितम शौक से मुझपे दिलदार करे

उसको हक़ है वो मुझे प्यार करे या ना करे
दिल मेरे तोड़ दिया उसने बुरा क्यों मानु
बुरा क्यों मानु, बुरा क्यों मानु

English Lyrics

आ आ आ..
दिल मेरा तोड़ दिया उसने बुरा क्यों मानु
दिल मेरा तोड़ दिया उसने बुरा क्यों मानु
उसको हक़ है वो मुझे प्यार करे या ना करे

दिल मेरे तोड़ दिया उसने बुरा क्यों मानु
पहले मालुम न था, आज ये मैंने समझा

प्यार कहते हैं जिसे वो है दिलों का सौदा
दिल की धड़कन को भला कैसे कोई क़ैद करे
ये तो आज़ाद है जब चाहे जहाँ आहें भरे


उसके रस्ते में खड़ी क्यों कोई दीवार करे
उसके रस्ते में खड़ी क्यों कोई दीवार करे

उसको हक़ है वो मुझे प्यार करे या ना करे
दिल मेरे तोड़ दिया उसने बुरा क्यों मानु
आ आ..


सारे वादों का भरम पल में वो तोड़ गया
ग़म के जिस मोड़ पे ला के वो मुझे छोड़ गया
मैं उसी मोड़ की दहलीज़ पे जाउंगी

उम्र भर उसके लिए अजनबी हो जाउंगी
हर सितम शौक से मुझपे दिलदार करे
हर सितम शौक से मुझपे दिलदार करे

उसको हक़ है वो मुझे प्यार करे या ना करे
दिल मेरे तोड़ दिया उसने बुरा क्यों मानु
बुरा क्यों मानु, बुरा क्यों मानु

Leave a Reply