Ghoonghat Ki Aad Se Hindi Lyrics – HHRPK 1993

0
121

Song Title: Ghoonghat Ki Aad Se Lyrics
Movie: Hum Hain Rahi Pyar Ke (1993)
Singers: Kumar Sanu, Alka Yagnik
Lyrics: Sameer
Music: Nadeem-Shravan
Music Label: Tips Music

English Lyrics

Ghunghat Kee Aadh Se Dilbar Kaa, Didar Adhura Rehta Hai
Jab Tak Naa Pade Aasheek Kee Najar, Singar Adhura Rehta Hai
Ghunghat Kee Aadh Se Dilbar Kaa

Ghunghat Kee Aadh Se Dilbar Kaa, Didar Adhura Rehta Hai
Jab Tak Naa Mile Najaro Se Najar, Ikrar Adhura Rehta Hai
Ghunghat Kee Aadh Se Dilbar Kaa

Dilbar Kaa Dilbar Kaa Dilbar Kaa

Gore Mukhde Se Ghunghta Hatane De
Ghadee Apne Milan Kee Toh Aane De
Mere Dil Pe Nahee Meraa Kabu Hai
Kuchh Nahee Yeh Toh Chahat Kaa Jadu Hai
Badhti Hee Jatee Hai Sanam Pyar Kee Yeh Bekhudee Ho
Do Premiyo Ke Naa Milne Se, Sansar Adhura Rehta Hai
Jab Tak Naa Mile Najaro Se Najar, Ikrar Adhura Rehta Hai
Ghunghat Kee Aadh Se Dilbar Kaa

Dilbar Kaa Dilbar Kaa Dilbar Kaa

Bag Me Gul Kaa Khilna Jaruree Hai
Han Mohabbat Me Milna Jaruree Hai
Pas Aane Kaa Achha Bahana Hai
Kya Karun Mai Kee Mausam Divana Hai
Dil Meraa Dhadkane Lagee Abb Toh Yeh Divangi Ho
Bina Kisee Yar Ke Janeja, Yeh Pyar Adhura Rehta Hai

Jab Tak Naa Mile Najaro Se Najar, Ikrar Adhura Rehta Hai
Ghunghat Kee Aadh Se Dilbar Kaa

Dilbar Kaa Dilbar Kaa Dilbar Kaa

Hindi lyrics

घूँघट की आड़ से दिलबर का
दीदार अधुरा रहता है
घूँघट की आड़ से दिलबर का
दीदार अधुरा रहता है
जब तक ना पड़े आशिक की नज़र
जब तक ना पड़े आशिक की नज़र


सिंगार अधुरा रहता है
घूँघट की आड़ से दिलबर का
घूँघट की आड़ से दिलबर का
दीदार अधुरा रहता है
जब तक ना पड़े नज़रों से नज़र
जब तक ना पड़े नज़रों से नज़र
इकरार अधुरा रहता है


घूँघट की आड़ से दिलबर का
दिलबर का, दिलबर का, दिलबर का
दिलबर का, दिलबर का, दिलबर का
गोर मुखड़े से घुंघटा हटाने दे
घडी आपने मिलन की तो आने दे
मेरे दिल पे नहीं मेरा काबू है
कुछ नहीं ये तो चाहत का जादू है


बढती ही जाती है सनम
प्यार की ये बेखुदी हो..
दो प्रेमियों के ना मिलने से
संसार अधुरा रहता है
जब तक ना पड़े नज़रों से नज़र
जब तक ना पड़े नज़रों से नज़र
इकरार अधुरा रहता है


घूँघट की आड़ से दिलबर का
दिलबर का, दिलबर का, दिलबर का
हाँ दिलबर का, दिलबर का, दिलबर का
बाग में गुल का खिलना ज़रूरी है
हाँ मोहब्बत में मिलना ज़रूरी है

पास आने का अच्छा बहाना है
क्या करूँ मैं की मौसम दीवाना है
दिल मेरा धड़कने लगी
अब तो ये दीवानगी हो
बिना किसी यार के जानेजा
ये प्यार अधुरा रहता है


जब तक ना मिले नज़रों से नज़र
जब तक ना मिले नज़रों से नज़र
इकरार अधुरा रहता है
घूँघट की आड़ से दिलबर का
घूँघट की आड़ से दिलबर का
दीदार अधुरा रहता है


जब तक ना पड़े आशिक की नज़र
सिंगार अधुरा रहता है
घूँघट की आड़ से दिलबर का
दिलबर का, दिलबर का, दिलबर का
दिलबर का, दिलबर का, दिलबर का


हाँ दिलबर का, दिलबर का, दिलबर का
हाँ दिलबर का, दिलबर का, दिलबर का
दिलबर का, दिलबर का, दिलबर का


हो दिलबर का, दिलबर का, दिलबर का
हाँ दिलबर का, दिलबर का, दिलबर का
दिलबर का, दिलबर का, दिलबर का

Leave a Reply